इससे सामाजिक दूरी का पालन करने में मदद मिलेगी. (सांकेतिक तस्‍वीर)
स्वास्थ्य

जापान ने बनाया सी-फेस मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग में मदद के साथ कई भाषाओं का करेगा अनुवाद

इससे सामाजिक दूरी का पालन करने में मदद मिलेगी. (सांकेतिक तस्‍वीर)

जापान (Japan) की स्टार्ट अप कंपनी डोनट रोबोटिक्स ( Donut Robotics) ने एक ऐसा फेस मास्क बनाया है, जो लोगों को सामाजिक दूरी (Social Distance) का पालन करने में मदद करेगा. साथ ही सी-फेस मास्क अनुवाद भी करेगा.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    October 28, 2020, 3:00 PM IST

कोरोना वायरस (Corona virus) की वजह से फेस मास्क (Face Mask) के एक बड़े बाजार ने जन्म लिया है. फेस मास्क बनाने की रेस में कई कंपनियां स्वास्थ्य और सुविधानुसार हाई-टेक मास्क (Hi-Teck Mask) बना रही है. इस कड़ी में जापान (Japan) की स्टार्ट अप कंपनी डोनट रोबोटिक्स ( Donut Robotics) ने एक ऐसा फेस मास्क बनाया है, जो लोगों को सामाजिक दूरी (Social Distance) का पालन करने में मदद के साथ एक अनुवादक (Translator) का भी काम करेगा. इस फेस मास्क का नाम सी-फेस्क मास्क (C-Face Mask) है.

सोशल डिस्टेंस बनाने के देता है संदेश
बता दें कि ‘सी-फेस मास्क’ एक एप के माध्यम से स्मार्टफोन में संवाद को संचारित करने का भी काम करता है. इसके साथ ही लोगों को 10 मीटर की दूरी बनाकर बातचीत करने को संदेश देता है. डोनट रोबोटिक्स के मुख्य कार्यकारी तायूस ओनो ने बताया, कोरोनावायरस के बावजूद हमें कभी-कभी एक-दूसरे से सीधे भी मिलना पड़ता है, इस उद्देश्य से इस मास्क का विचार आया. कंपनी के मुताबिक मास्क में सिलिकॉन की एक हल्की डिवाइस को जोड़ा गया है जिससे डॉक्टर को दूर बैठे मरीजों से संपर्क करने में आसानी होगी.

ये भी पढ़ें – कोरोना से बचाव के लिए दिन में दो बार टूथब्रश जरूरी: ब्रिटिश डेंटिस्टकई भाषाओं को करता है ट्रांसलेट

कंपनी के अनुसार सी-फेस मास्क एक अनुवादक का भी काम करता है. यह जापानी से अंग्रेजी, कोरियाई और अन्य भाषाओं में संवाद का अनुवाद कर सकता है. मास्क में मौजूद इस फंक्शन की उपयोगिता उस वक्त और बढ़ जाएगी तब यात्रा संबंधी दिशा-निर्देशों में समस्या उत्पन्न होगी. लेकिन सी-फेस मास्क खुद को कोविड-19 से सुरक्षा प्रदान नहीं करता है. इसे केवल नियमित रूप से चेहरे को ढंकने के लिए ही डिज़ाइन किया गया है. इसकी कीमत 40 डॉलर होगी और अगले साल फरवरी में बाजारों में आएगा.

सिंगापुर ने भी तैयार किया हाई-टेक मास्क
वहीं सिंगापुर में भी एक ऐसा मास्क तैयार किया गया है, जो कोविड-19 के मरीजों का इलाज करने वालों की सुरक्षा करेगा. इस मास्क में एक सेंसर है जो शरीर के तापमान, हॉर्ट रेट, रक्तचाप और रक्त ऑक्सीजन के स्तर की निगरानी करेगा. साथ ही ब्लूटूथ ट्रांसमीटर के माध्यम से स्मार्टफोन में डेटा संचारित करेगा. इसके अन्वेषकों का कहना है कि यह उपकरण भीड़ वाले शयनगृह में प्रवासी श्रमिकों पर निगरानी रख सकता है जिससे शहर में बड़े पैमाने पर वायरस का फैलाव हो रहा है. कंपनी निकट भविष्य में इसके परीक्षण करने और व्यावसायिक रूप से इसे बाजार में लाने की उम्मीद में बैठी है.

ये भी पढ़ें – आईवीएफ (IVF) तकनीक के जरिए बनना चाहते हैं माता-पिता, जान लें ये बातें

एलजी कंपनी ने बनाया खास प्यूरीफायर
इसके साथ ही स्मॉगग्रस्त शहरों में प्रदूषण से बचाव के लिए दक्षिण कोरिया की इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनी एलजी ने भी एक ‘एयर प्यूरीफायर मास्क’ विकसित किया है. इसमें एक फ्यूचरिस्टिक व्हाइट डिवाइस है जो पहनने वाले के मुंह नाक और ठोड़ी के पास फिट होगी. इसमें दोनों तरफ एक-एक फिल्टर भी है और एक पंखा भी जो वायु प्रवाह को नियंत्रित करेगा. अन्य एयर प्यूरीफायर की तरह यह भी 99.95 प्रतिशत हानिकारक कणों को ब्लॉक कर सकता है. कंपनी के मुताबिक अभी मेडिकल स्टाफ को हजारों की संख्या में यह प्यूरीफायर मास्क उपलब्ध कराए गए हैं और इसे भविष्य में दुकानों में भी बेचा जाएगा.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *