यह एक ऐसी बीमारी है जिसमें हड्डियों के जोड़ों में सूजन हो जाती है.
स्वास्थ्य

जानिए होम्योपैथी में क्या है गठिया का इलाज

गठिया (Arthritis) वह रोग है, जिसमें व्यक्ति को शरीर के अधिकांश जोड़ वाली जगह पर सूजन (Swelling) और दर्द (Pain) की समस्या होती है. यह हड्डियों में कार्टिलेज नामक चिकने पदार्थ की कमी के कारण होता है, जिससे हड्डियों में चिकनापन कम हो जाता है और यह हड्डियां (Bones) आपस में रगड़ खाती हैं. इस स्थिति में तेज दर्द और सूजन की समस्या होती है. क्लीनिकल भाषा में इस बीमारी को आर्थराइटिस कहा जाता है. यह कई प्रकार के हो सकते हैं. आइए जानते हैं आर्थराइटिस के कारण और इसके होम्योपैथिक उपचारों के बारे में-

आर्थराइटिस के कारण

myUpchar के अनुसार शरीर में यूरिक एसिड कुछ खाद्य पदार्थों के ज्यादा सेवन से बढ़ जाता है. यूरिक एसिड बनने के बाद यह खून में घुलकर किडनियों के द्वारा होते हुए यूरिन के रास्ते बाहर निकल जाता है. वहीं किसी के शरीर में जब यही यूरिक एसिड बाहर नहीं निकल पाती है तो यही एसिड किडनी और जोड़ों में इकट्ठा होने लगता है, जिससे किडनी में पथरी और जोड़ों में गठिया की समस्या होती है. गठिया का एक यही कारण नहीं है बल्कि यह कई अन्य कारणों की वजह से भी हो सकता है, जिन पर शोध चल रहे हैं.ये भी पढ़ें – सही नाप के जूते न पहनने से हो सकती है फुट कॉर्न की शिकायत

अर्निका मोंटाना

जो लोग लंबे समय से गठिया से परेशान हैं, उनके लिए यह दवा बेहद लाभकारी है. जिन्हें घबराहट, मुंह का स्वाद कड़वा हो जाना, मसूड़ों, छाती, पीठ और टांगों में दर्द, आराम करने पर सख्त सा महसूस होना आदि लक्षण पाए जाते हैं, उनके लिए इस होम्योपैथिक दवा से उपचार किया जाता है.

बेलेडोना

myUpchar के अनुसार जिन्हें जोड़ों में अचानक दर्द, जलन और सूजन महसूस होती है या जिन्हें सिर की नसों में दर्द, चेहरे और मांसपेशियों में सूजन, दांत में दर्द, हाथ पैरों में मरोड़ और ऐंठन, पेट दर्द के साथ भूख न लगना, सीधे नहीं लेटने पर रीड की हड्डी दर्द करना, सांस लेने में दिक्कत के साथ गर्दन में अकड़न महसूस होती है उनके लिए बेलेडोना एक बेहतर होम्योपैथिक दवा होती है.

ब्रायोनिया एल्बा

गठिया के रोग में जिन लोगों को अत्यधिक चिड़चिड़ापन, पेट पर हाथ लगाने पर दर्द, गर्दन में अकड़न, पेट में अकड़न, पांव में सूजन और हाथ पैर में खिंचाव जैसे लक्षण महसूस होते हैं, उनमें होम्योपैथिक डॉक्टर इलाज के लिए ब्रायोनिया एल्बा दवा का इस्तेमाल करते हैं. वैसे कोई भी होम्योपैथिक दवा धीरे-धीरे असर करती है, लेकिन यह जड़ से बीमारी को ठीक कर सकती है.

ये भी पढ़ें – Year 2020: कोरोनोवायरस महामारी में बदल गया हमारे जीने का तरीका

एकोनिटम नेपेलस

जिन्हें लगभग शरीर के हर हिस्सों में दर्द महसूस होता है. इसके साथ ही सांस फूलने के साथ बेचैनी लगती है, ऐसे लोगों में एकोनिटम नेपेलस नामक दवा फायदेमंद होती है.

कॉस्टिकम

जिन लोगों को शरीर के सभी जोड़ों में दर्द के साथ जबड़े हिलाने में भी दर्द होता है. इसके अलावा जिन लोगों को पांव में खुजली होने के साथ नींद आने में परेशानी होती है, ऐसे मामलों में कॉस्टिकम एक बेहतर होम्योपैथिक दवा हो सकती है. ध्यान रहे, अपने आप दवा लेने की जगह डॉक्टर से परामर्श लें.

अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, गठिया या संधि शोध की होम्योपैथिक दवा और इलाज पढ़ें।

न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं। सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है। myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *