गर्मी का मौसम लाता है किडनी स्टोन का खतरा? ये हैं कुछ लक्षण और सावधानियां
स्वास्थ्य

गर्मी का मौसम लाता है किडनी स्टोन का खतरा? ये हैं कुछ लक्षण और सावधानियां

हैदराबाद में डॉक्टरों द्वारा किडनी से 206 स्टोन निकालने वाली खबर ने ऑनलाइन वर्ल्ड में हलचल मचा दी, अब लोग गर्मियों में अपनी सेहत लेकर ज्यादा सोचने लेने लगे हैं. दरअसल इन स्टोन्स को किडनी से हटाने के लिए डॉक्टरों ने एक घंटे की की-होल (Key-hole) सर्जरी की थी, जिसके बाद उन्होंने कहा, “गर्मियों के दौरान बहुत ज्यादा हाई टेम्प्रेचर डिहाइड्रेशन का कारण बन सकता है.” हीट वेव्स के चलते डिहाइड्रेशन होना अक्सर गुर्दे की पथरी (Kidney Stone) का कारण बनता हैं. आपको बता दें कि किडनी स्टोन (गुर्दे की पथरी) साइज में अलग-अलग होती है, ये एक दाने जितनी छोटी और गोल्फ की बॉल जितनी बड़ी भी हो सकती है. किडनी स्टोन पुरुषों और महिलाओं दोनों को प्रभावित करती है, और इसका खतरा आमतौर पर आपकी उम्र बढ़ने के साथ बढ़ता है या फिर अगर आपकी पहले से ही किडनी स्टोन की कोई हिस्ट्री रही हो.

किडनी स्टोन के कुछ सामान्य लक्षणों में पीठ और बाजू में तेज ऐंठन या दर्द शामिल हैं. दर्द अक्सर पेट के निचले हिस्से या कमर में चला जाता है, और ये दर्द आ और जा सकता है, क्योंकि शरीर पथरी से छुटकारा पाने की कोशिश करता है.

किडनी स्टोन के कुछ अन्य लक्षण
– बार-बार प्रेशर से पेशाब करने की जरूरत
– पेशाब (यूरिन) के दौरान जलन महसूस होना
– पेशाब ब्लड की वजह से गहरा या लाल हो जाता है. कभी-कभी यूरिन में केवल थोड़ी मात्रा में रेड ब्लड सेल्स होते हैं.
– मतली और उल्टी
– पुरुषों को लिंग की नोक पर दर्द महसूस हो सकता है

यह भी पढ़ें-
कब करें ब्रेकफास्ट, लंच और डिनर? जिससे शरीर को मिले ज्यादा फायदा, जानिए

अगर किडनी स्टोन का साइज छोटा है तो उसे दवाओं द्वारा काटकर पेशाब के रास्ते बाहर निकाला जा सकता है, इसके लिए डॉक्टरों द्वारा बताई गई कुछ दवाएं ले सकते हैं. लेकिन अगर स्टोन साइज में बड़ा है और आप बहुत तेज दर्द से जूझ रहे हैं तो सर्जरी की जरूरत हो सकती है.

किडनी स्टोन को रोकने के लिए कोई क्या कर सकता है?
किडनी स्टोन को रोकने का सबसे सरल और साधारण तरीका है अच्छी तरह से हाइड्रेटेड रहना. मतलब गर्मी के मौसम में ज्यादा से ज्यादा तरल पदार्थ (fluid) लें. इस मौसम में जब कोई एक्सरसाइज कर रहे हों या खेल खेल रहे हों, तब तो जरूर भी लिक्विड लेते रहें. सादे पानी से लेकर, फलों के रस और सब्जियों के रस तक, सभी आपके तरल पदार्थ के सेवन (fluid intake) में गिने जाते हैं.

यह भी पढ़ें-
अनमैरिड लोगों को हार्ट फेलियर से ज्यादा खतरा, जानिए क्या कहती है स्टडी

हालांकि, अपनी हेल्थ और शुगर इनटेक को बैलेंस करने के लिए, बिना कैलोरी या कम कैलोरी वाले ड्रिंक्स पीना सबसे अच्छा है.एल्कोहलिक ड्रिंक्स से बचें क्योंकि वे तरल पदार्थ की हानि और अनावश्यक कैलोरी को बढ़ाते हैं.

Tags: Health, Kidney, Lifestyle, Stone

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.