Hindi News - News18 हिंदी
स्वास्थ्य

क्या आलू का दूध नया गैर-डेयरी विकल्प है? यहां जानिए इसके बारे में सब कुछ / Health News Potato Milk is The New Alternative of Non Dairy Product Know all about it Nav– News18 Hindi

Potato Milk : हमारे रोजमर्रा के खान-पान (Daily Diet) में अहम भूमिका अदा करने वाले दूध (Milk) से जुड़ी एक अनोखी जानकारी समाने आई है. आप तो जानते ही होंगे कि अभी तक गाय-भैंस, भेड़-बकरी या अन्य पशुओं के दूध का ही लंबे समय उपयोग किया जाता रहा है, फिर चाहे वो पीने के लिए हो या फिर चाय-कॉफी व कोई स्पेशल डिश बनाने के लिए. लेकिन समय के साथ-साथ दूध के अन्य गैर डेयरी विकल्प भी बाजार में आते गए, जैसे सोया दूध (Soya Milk), बादाम का दूध (Almond Milk), ओट्स का दूध, काजू दूध आदि. अब इस लिस्ट में एक और नाम जुड़ने जा रहा है. ये नाम किसी अनाज या ड्राईफ्रूट का नहीं है, बल्कि एक सब्जी का है. वो भी ऐसी सब्जी का जिसे ज्यादातर लोग रोजाना किसी ना किसी रूप में इस्तेमाल करते हैं. हम बात कर रहे हैं आलू की और अब बाजार में बहुत जल्द आलू से बना दूध आने वाला है.

स्वीडिश कंपनी (Swedish Company) वेज ऑफ लूंड (Veg Of Lund) द्वारा ‘डीयूजी (DUG) ‘ब्रांड से लॉन्च किए गए आलू के दूध ने सभी का ध्यान आकर्षित किया है. इसे कंपनी ने तीन फ्लेवर में निकाला है, जो कि बरिस्ता पटेटो, ओरिजनल पटेटो और अनस्वीटेंड पटेटो.

इसे भी पढ़ेंः बारिश के मौसम में इन टिप्स को करें फॉलो, रहें सेहतमंद

इंडियन एक्स्प्रेस की खबर के मुताबिक ‘द गार्जियन’ के साथ एक इंटरव्यू में वेज ऑफ लूंड के सीईओ, थॉमस ओलैंडर (Thomas Olander) ने कहा है कि ये ड्रिंक बहुत टिकाऊ है, क्योंकि किसी भी अन्य दूध की तुलना में एक लीटर आलू के दूध को बनाने में बहुत कम संसाधन लगते हैं. उन्होंने आगे दावा किया कि ‘इसके उत्पादन के लिए ओट्स (Ots) के दूध की तुलना में आधी और बादाम के दूध की तुलना में 56 गुना कम जमीन की जरूरत होती है.

क्या कहते हैं जानकार
हालांकि न्यूट्रिशनिस्ट (Nutritionist) आरूषि अग्रवाल (Arooshi Aggarwal) ने कहा कि आलू के दूध का उत्पादन करने वाली यह पहली कंपनी नहीं है. आलू से बने दूध को पहली बार अमेरिका और कनाडा की एक कंपनी ने 2015 में लॉन्च किया था. उन्होंने बताया- डेयरी प्रॉडक्ट्स के ऑप्शंस की डिमांड बढ़ रही है. इसलिए, इस आविष्कार के बारे में सभी जानना चाहते हैं. आलू का दूध न केवल सोया लेस, ग्लूटेन लेस और शुगर लेस है, बल्कि डेयरी के लिए एक बेस्ट रिप्लेसमेंट है क्योंकि यह डेयरी दूध के जैसा है.

आलू का दूध कैसे बनता है?
न्यूट्रिशनिस्ट आरूषि अग्रवाल आलू से दूध बनाने के बारे में भी बताती हैं. उन्होंने कहा कि आलू का दूध आलू को गर्म पानी में उबालकर बनाया जाता है, इसके बाद कैल्शियम, मटर प्रोटीन और कासनी फाइबर के लिए इसे रेपसीड तेल और अन्य फूड आइटम्स के साथ फेंटा जाता है. इसके बाद इसे विभिन्न विटामिन्स और मिनरल्स के साथ तैयार किया जाता है.

इसे भी पढ़ेंः  जानें हेल्दी लाइफ के लिए क्यों जरूरी है शाकाहारी फूड

आलू के दूध के स्वास्थ्य लाभ
न्यूट्रिशनिस्ट आरूषि अग्रवाल आलू के दूध के फायदे बताते हुए कहतीं हैं, आलू का दूध विटामिन डी और विटामिन बी12 का अच्छा सोर्स है. उन्होंने इंडियन एक्सप्रेस को बताया, “यह विटामिन ए, सी, डी, ई और के के साथ-साथ बी विटामिन, कैल्शियम और आयरन सहित अन्य महत्वपूर्ण विटामिन और मिनरल्स से भरपूर है. जो कि इसे गाय के दूध के समान पौष्टिक रूप से मजबूत बनाता है.

उन्होंने यह भी बताया कि यह टिकाऊ और पर्यावरण के अनुकूल है क्योंकि इसके उत्पादन में कम पानी और जमीन की आवश्यकता होती है. हालांकि, न्यूट्रिशनिस्ट आलू के दूध का सेवन करने की सलाह देने से पहले सतर्क भी करतीं हैं. उन्होंने कहा कि डायबिटीज, हार्ट पेशेंट्स, हाई बीपी के मरीज और अपच से पीड़ित लोगों के लिए इस दूध को एक अच्छा विकल्प सुझाने के कोई साक्ष्य उपलब्ध नहीं है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *