कोरोना का लोगों की मानसिक स्थिति पर भी बुरा प्रभाव पड़ा है. Image Credit:Pexels/cottonbro
स्वास्थ्य

कोरोना से उबरने में हो रही दिक्कत? इन टिप्स का लें सहारा

कोरोना का लोगों की मानसिक स्थिति पर भी बुरा प्रभाव पड़ा है. Image Credit:Pexels/cottonbro

कोरोना संक्रमण (Corona Infection) से उबरने के बाद भी लोगों को कई समस्‍याओं (Problems) का सामना करना पड़ रहा है. उनमें सुस्ती, थकान आदि लक्षण नजर आ रहे हैं. साथ ही इसका उनकी मानसिक स्थिति पर भी बुरा प्रभाव पड़ रहा है.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    December 7, 2020, 5:11 PM IST

यह साल जाने को है, मगर साल की शुरुआत में शुरू हुआ कोरोना (Coronavirus) का कहर अभी तक थम नहीं सका है. दरअसल, जिन लोगों का इम्‍यून सिस्‍टम (Immune System) कमजोर है, यह वायरस (Virus) उन पर जल्‍दी हमला कर रहा है. वहीं संक्रमण से उबरने के बाद भी लोगों को कई समस्‍याओं का सामना करना पड़ रहा है. उनमें सुस्ती, थकान, सांस फूलना आदि लक्षण नजर आ रहे हैं. साथ ही इसका उनकी मानसिक स्थिति पर भी बुरा प्रभाव पड़ रहा है. यही वजह है कि समय समय पर डब्ल्यूएचओ की ओर से भी सभी कोविड-19 मरीजों को तनाव, चिंता और अवसाद से बचे रहने की सलाह दी गई है. ऐसे में अपने रूटीन में बदलाव करके और अपने आहार में कुछ चीजों को शामिल करके आप इससे उबरने में मदद पा सकते हैं. साथ ही यहां कुछ खास टिप्‍स दिए जा रहे हैं जिनसे आपको मदद मिलेगी.

अच्‍छी डाइट लें
कोविड-19 होने के बाद आपके शरीर में कई पोषक तत्वों की कमी हो जाती है. ऐसे में शरीर को स्वस्थ रखने को पोषक तत्‍वों से युक्‍त भोजन करें, ताकि आप जल्दी से रिकवर कर सकें. इसके लिए मांस, अंडा, दूध, दाल, फलियां, सूखा मेवा, जौ, बाजरा आदि को अपनी डाइट में शामिल करें. फाइबर, विटामिन, मिनरल और एंटीऑक्सीडेंट युक्त भोजन करें. इससे आपका शरीर जल्‍दी स्‍वस्‍थ हो सकेगा.

ये भी पढ़ें – Year 2020: कोरोनोवायरस महामारी में बदल गया हमारे जीने का तरीकापर्याप्‍त पानी पिएं

दिन भर पर्याप्‍त मात्रा में पानी पिएं. पानी शरीर में मौजूद विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालता है. इसके लिए आप दिन भर में 8-10 गिलास पानी पिएं. इसके अलावा आप नारियल का पानी, फलों का जूस, सब्जियों से बना सूप आदि भी लेते रहेंगे तो आपके शरीर में ऊर्जा बनी रहेगी.

भरपूर नींद है जरूरी
इस बात का ख्‍याल रखें कि आपकी नींद समय पर और पूरी हो. क्‍योंकि जब आप संक्रमित रहे होंगे तो आप ठीक से सो भी नहीं पाए होंगे. ऐसे में समय पर सोने और जागने से आपके शरीर में फुर्ती आएगी औेर इससे उबरने में मदद मिलेगी.

ये भी पढ़ें – सही नाप के जूते न पहनने से हो सकती है फुट कॉर्न की शिकायत

मानसिक सेहत का रखें ख्‍याल 
संक्रण से उबरने के बाद आसान नहीं होता फिर से सामान्‍य जीवन की तरफ लौटना. इसकी वजह यह है कि इस बीच व्‍यक्ति भावनात्मक रूप से खुद को कमजोर महसूस करता है. इस संबंध में समय समय पर डब्ल्यूएचओ की ओर से भी सभी कोविड-19 मरीजों को तनाव, चिंता और अवसाद से बचाव की सलाह दी जाती रही है. ऐसे में बेहतर स्‍वास्‍थ्‍य और जीवन के लिए जरूरी है कि इससे उबरने का प्रयास किया जाए और सकारात्‍मक सोचा जाए. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *