कहीं आप जरूरत से ज्यादा नमक तो नहीं खा रहे? जानें शरीर में इसकी अधिक मात्रा होने के 5 लक्षण
स्वास्थ्य

कहीं आप जरूरत से ज्यादा नमक तो नहीं खा रहे? जानें शरीर में इसकी अधिक मात्रा होने के 5 लक्षण

Excess Salt Symptoms: खाने में प्रयोग होने वाला नमक (Salt) दरअसल सेहत (Health) के लिए जितना जरूरी है उसका अत्‍यधिक प्रयोग शरीर को नुकसान (Harm) भी पहुचा सकता है. हेल्‍थलाइन के मुताबिक, नमक 40 प्रतिशत सोडियम और 60 प्रतिशत क्‍लोराइड से बना है. सोडियम और क्‍लोराइड शरीर में पानी और मिनरल्‍स को बैलेंस रखने का काम करते हैं. लेकिन अगर इसना अधिक सेवन किया जाए तो आगे चलकर इसकी वजह से शरीर को काफी नुकसान भी हो सकता है.

विशेषज्ञों का कहना है कि अधिक नमक के सेवन से ब्‍लड प्रेशर, स्‍टोमक कैंसर, किडनी डिजीज, हार्ट डिजीज, प्रीमेच्‍योर डेथ जैसी जानलेवा बिमारियां भी हो सकती हैं.

अधिक नमक खा लें तो क्‍या करें?
अगर आप अधिक नमक खा लिए हैं तो अधिक से अधिक पानी पिएं, पोटैशियम रिच फूड खाएं, फल, सब्‍जी, नट्स आदि खाएं. अधिक से अधिक फ्रेश फूड का सेवन करें.

इसे भी पढ़ें : Tips For Healthy Bones: हड्डियां हो रही हैं कमजोर तो आज से ही छोड़ दें ये बुरी आदतें

कितना नमक खाना चाहिए?
अगर आप एक दिन में 5 ग्राम से कम नमक का सेवन करते हैं तो इसका शरीर को नुकसान नहीं होता. लेकिन इससे ज्यादा नमक का सेवन शरीर को कई तरह से नुकसान पहुंचा सकता है.

ज्यादा नमक खाने के लक्षण

डिहाइड्रेशन
अगर आप अधिक नमक खा रहे हैं तो इससे आपके शरीर में डिहाइड्रेशन के लक्षण दिखने लगते हैं. ज्यादा सोडियम के सेवन से अधिक पसीना आ सकता है, पेशाब अधिक आती है, बहुत अधिक उल्टी और दस्त भी हो सकते हैं. ऐसे में आप डिहाइड्रेट हो सकते हैं.

बीपी बढ़ाना
बहुत अधिक नमक के सेवन से बीपी बढ़ने की समस्‍या हो सकती है. दरअसल, नमक के अधिक सेवन से रक्त प्रवाह में बहुत अधिक सोडियम आ जाता है जिसे पतला करने के लिए पानी हमारी कोशिकाओं से बाहर निकल जाता है. यह अधिकांश कोशिकाओं के लिए हानिकारक है खासतौर पर मस्तिष्क की कोशिकाओं के लिए. ऐसे में आपको प्यास, मतली, उल्टी और कमजोरी आदि भी महसूस हो सकती है. ये बीपी बढ़ने के लक्षण हो सकते हैं.

इसे भी पढ़ें: ज्यादा तनाव महसूस होने पर क्या करें? एक्सपर्ट से जानें नेगेटिव स्ट्रेस को कम करने का तरीका

इंफ्लामेशन होना
अधिक नमक खाने से शरीर में जगह जगह सूजन नजर आ सकती है जिसे एडिमा भी कहते हैं. एडिमा मुख्य रूप से शरीर में बहुत अधिक नमक, सोडियम क्लोराइड के कारण होती है.

ऑस्टियोपोरोसिस
अधिक नमक और अतिरिक्त प्रोटीन का सेवन मूत्र में कैल्शियम के उत्सर्जन को बढ़ा देता है. इससे हड्डियों में कैल्शियम का क्षरण होने लगता है. इस तरह ज्यादा नमक ऑस्टियोपोरोसिस के लक्षण को बढ़ा देता है. इससे हड्डियां कमजोर होने लगती हैं.

मांसपेशियों में दर्द
अधिक नमक मांसपेशियों के संकुचन, तंत्रिका कार्य और रक्त की मात्रा को संकुचित करने का काम करता है. यह आपके शरीर में द्रव के स्तर को कंट्रोल करता है जो मांसपेशियों में दर्द का भी कारण बनता है.

Tags: Health, Lifestyle

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.