ऋतिक रोशन ने दान किया अपना रेयर ब्लड ग्रुप, इन दुर्लभ रक्त समूह के बारे में कितना जानते हैं आप?
स्वास्थ्य

ऋतिक रोशन ने दान किया अपना रेयर ब्लड ग्रुप, इन दुर्लभ रक्त समूह के बारे में कितना जानते हैं आप?

What is Rare Blood Group: ‘वर्ल्ड रैंडम एक्ट ऑफ काइंडनेस डे’ (World Random Act of Kindness Day) 17 फरवरी को होता है. इस मौके पर एक्टर ऋतिक रोशन (Hrithik Roshan) ने अपना रक्त दान (Blood Donation) करने का बेहद ही नेक काम किया. साथ ही उन्होंने अपने फैंस से भी ब्लड डोनेट करने की अपील की है. सोशल मीडिया अकाउंट पर जब ऋतिक ने ब्लड दान करते हुए अपनी फोटो शेयर की, तो फैंस के कई अच्छे कमेंट्स भी आए. दरअसल, ऋतिक रोशन का जो ब्लड ग्रुप है, वह बहुत रेयर है और अक्सर हॉस्पिटल के ब्लड बैंक में इसकी कमी रहती है. एक्टर का ब्लड ग्रुप बी-नेगेटिव (B-Negative) है, जो एक रेयर ब्लड ग्रुप (Rare blood types) की कैटेगरी में आता है. इस ब्लड ग्रुप के अलावा भी कुछ ऐसे ब्लड ग्रुप हैं, जो जल्दी उपलब्ध नहीं होते हैं. जानें कौन से हैं वे रेयर ब्लड ग्रुप जिसकी कमी से जा सकती है मरीज की जान.

कई प्रकार के होते हैं ब्लड समूह

एबीओ सिस्टम के आधार पर कई तरह के ब्लड ग्रुप होते हैं जैसे ए पॉजिटिव, ए नेगेटिव, ओ पजिटिव, ओ नेगेटिव, बी पॉजिटिव, बी नेगेटिव, एबी नेगेटिव, एबी पॉजिटिव. ए एंटिजेन होने पर ब्लड ए होता है, बी एंटीजेन होने पर ब्लड बी होता है. एबी ब्लड ग्रुप में दोनों ही ए, बी एंटीजेंस होते हैं, वहीं ओ ब्लड ग्रुप में ए या बी एंटीजेंस नहीं मौजूद होते हैं.

इसे भी पढ़ें: क्या होता है लाखों में एक ‘बॉम्बे ब्लड ग्रुप’, जिसकी मुंबई में है शॉर्टेज

क्या होता है रेयर ब्लड ग्रुप

टीओआई की खबर के अनुसार, बी-नेगेटिव के अलावा, एबी नेगेटिव (AB-Negative) और एबी पॉजिटिव (AB-Positive) बेहद रेयर ब्लड ग्रुप होते हैं, जो जल्दी उपलब्ध नहीं होते हैं. ऐसे में जिनका भी ये ब्लड ग्रुप हो, उन्हें जरूर समय-समय पर रक्त दान करके दूसरों की जान बचाने में मदद करनी चाहिए. आरएच नल (RH null) भी बहुत रेयर ब्लड ग्रुप होता है. ब्लड ग्रुप जेनेटिकली निर्धारित होते हैं. बच्चों को उनके पेरेंट्स से ब्लड ग्रुप प्राप्त होता है. ब्लड में एंटीजन होते हैं, जो लाल रक्त कोशिकाओं की सतह पर स्थित होते हैं. ब्लड ग्रुप निर्धारित करने के लिए एबीओ सिस्टम और आरएच फैक्टर को ध्यान में रखा जाता है. एबीओ प्रणाली ए, बी एंटीजन की उपस्थिति या अनुपस्थिति के साथ रक्त समूह की पुष्टि करती है.

इसे भी पढ़ें: दुनिया के केवल 43 लोगों में है यह दुर्लभ ब्लड ग्रुप

ब्लड ग्रुप जो होते हैं बेहद रेयर

जिनका ब्लड ग्रुप आरएच नल होता है, वे दुनिया के सबसे अधिक दुर्लभ रक्त समूह वाले होते हैं. इसे गोल्डन ब्लड ग्रुप कहते हैं. इसमें लाल रक्त कोशिकाओं पर Rh एंटीजन नहीं होते हैं. ऐसा कहा जाता है कि दुनिया भर में 50 से भी कम लोगों का यह ब्लड ग्रुप है. ए नेगेटिव ब्लड ग्रुप वालों की संख्या भी काफी कम है. एबी नेगेटिव भी दूसरा सबसे रेयर ब्लड ग्रुप होता है. यूके की एक रिपोर्ट के अनुसार, सिर्फ 1 प्रतिशत लोगों का ही ये ब्लड ग्रुप होता है. इसमें सिर्फ एंटीजेंस होता है, एंटीबॉडीज नहीं, इसलिए यह एक यूनिक ब्लड ग्रुप है.
बी नेगेटिव रेयर ब्लड ग्रुप में दुनिया भर में तीसरे नंबर पर आता है. बी नेगेटिव वाले बी और एबी ब्लड ग्रुप्स को अपना रक्तदान कर सकते हैं. एबी पॉजिटिव ब्लड ग्रुप वाले किसी भी ब्लड ग्रुप वाले व्यक्ति से खून ले सकते हैं.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.