इन 5 चीज़ों के इस्तेमाल से दूर होगी सीजनल रैशेज़ की समस्या
स्वास्थ्य

इन 5 चीज़ों के इस्तेमाल से दूर होगी सीजनल रैशेज़ की समस्या

गर्मी शुरू होते ही त्वचा और बालों से जुड़ी परशानियां बढ़ने लगती हैं. फोड़े-फुंसी के अलावा रैशेज़ और स्किन इर्रिटेशन भी सीजनल प्रॉब्लम ही होती है. यह समस्या हर उम्र के लोगों में देखने को मिलती है. इससे परेशान होकर लोग अलग-अलग दवाओं और क्रीम का इस्तेमाल करते हैं. वहीं कुछ लोग ऐसे भी होते हैं, जो इन समस्याओं से बचने के लिए होम रेमेडी अपनाना ही पसंद करते हैं.

स्किन प्रॉब्लम से जुड़ी समस्या अगर बच्चों की हो, तो पेरेंट्स और ज़्यादा परेशान हो जाते हैं. वे जानते हैं कि दवाओं से प्रॉब्लम ठीक हो सकती है, लेकिन इन दवाओं के साइड अफेक्ट ख़तरनाक होते हैं. ऐसे में अगर आप भी सीजनल स्किन प्रॉब्लम से अपनी और फैमिली की सुरक्षा घरेलू नुस्ख़ों को अपनाकर करना चाहते हैं, तो हम आपको बताते हैं किन घरेलू नुस्ख़ों की मदद से आप सीजनल रैशेज़ और स्किन इर्रिटेशन से बच सकते हैं.

ये भी पढ़ें : गर्मी में वर्कआउट करने का सही समय क्या है? एक्सपर्ट से जानें, किन बातों का रखें ख्याल

खीरे का इस्तेमाल
ओनलीमायहेल्थ के मुताबिक खीरे का इस्तेमाल सीजनल रैशेज़ में फायदेमंद होता है. नेचुरल एंटी ऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर खीरे का पेस्ट या फिर इसके टुकड़े शरीर के उन जगहों पर लगाएं जहां आपको इर्रिटेशन  महसूस हो रही है. खीरे में मौजूद तत्व त्वचा को ठंडक पहुंचाते हुए स्किन को हाइड्रेट करती है, जिससे खुजली की समस्या कम होती है.

कोल्ड कम्प्रेशन 
त्वचा पर उभरे चकत्ते से छुटकारा पाने के लिए कोल्ड कम्प्रेशन का इस्तेमाल भी असरदार साबित होता है. स्किन इर्रिटेशन की वजह से की गई खुजली से उभरे सूजन और रेडनेस की प्रॉब्लम के लिए आइस बैक का इस्तेमाल करें. यह त्वचा को अंदर तक ठंडा करेगा, जो जलन कम करने में मदद करेगी. अगर आइस बैग नहीं है, तो कॉटन के कपड़े पर आइस क्यूब्स रखकर त्वचा पर इस्तेमाल करें या फिर बर्फ जमे वॉटर बोतल की मदद लें.

ये भी पढ़ें : मंकीपॉक्स के इलाज में फायदेमंद हो सकती है कुछ एंटीवायरल दवाएं – लैंसेट स्टडी

नारियल का तेल
एंटी बैक्टीरियल, एंटी फंगल और एंटी इंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर नारियल का तेल सीजनल स्किन प्रॉब्लम पर बेहद असरदार होता है. अगर किसी इंफेक्शन या बैक्टीरिया की वजह से खुजली हो रही है, तो यह  घरेलू उपाय उसे दूर करता है. साथ ही यह स्किन को हाइड्रेट और मॉइस्चराइज रखने में फायदेमंद साबित होता है.

ओटमील
ओटमील सेहत के साथ-साथ स्किन के लिए भी उपयोगी साबित होता है. इसके एंटी इंफ्लेमेटरी गुण स्किन एलर्जी को दूर करते हैं. स्किन को रिलैक्स करने के लिए  ओटमील बाथ भी लिया जा सकता है. ओटमील में मौजूद  तेल,स्किन रिपेयर करने में मददगार होता है.

दही
स्किन पर उभरे चकत्ते को दूर करने में दही भी एक असरदार घरेलू नुस्खा साबित होता है. त्वचा को ठंडक पहुंचाते हुए यह खुजली कम करता है. शरीर के जिस हिस्से में रैशेज़ या खुजली की प्रॉब्लम है, वहां दही लगाकर कुछ देर के लिए छोड़ दें, फिर उस हिस्से को पानी से धो लें. इस घरेलू नुस्खे को अपनाकर आप घर बैठे सीजनल स्किन इर्रिटेशन से आराम पा सकेंगे.

Tags: Health, Lifestyle, Summer

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.