आपके स्किनकेयर रूटीन में जरूर होना चाहिए ये ट्रेडिशनल आयुर्वेदिक तेल
स्वास्थ्य

आपके स्किनकेयर रूटीन में जरूर होना चाहिए ये ट्रेडिशनल आयुर्वेदिक तेल

क्लाइमेट चेंज (जलवायु परिवर्तन) की वजह से गर्मियों का मौसम लंबा हो गया हैं. ग्लोबल वार्मिंग के कारण हाल के दिनों में न केवल गर्मियों की लंबाई बल्कि गर्मी की तीव्रता में बढ़ोतरी हुई है. इन कंडीशंस ने हमें ऐसी सिचुएशन में पहुंचा दिया है जहां हमें अपनी स्किन की ज्यादा देखभाल करने की जरूरत होती है, वरना इसके नतीजे बहुत अधिक नुकसानदायक हो सकते हैं. अब हमारे लिए ये डिसाइड करना बहुत जरूरी हो गया कि हम केमिकल कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स के बजाय नेचुरल इंग्रीडिएंट से बने ऑर्गेनिक प्रॉक्डक्टस चुनें. कुमकुमादि तैलम (Kumkumadi Tailam) नामक आयुर्वेदिक तेल आपके स्किनकेयर रूटीन में शामिल करने के लिए सबसे फायदेमंद तेलों में से एक है.

कुमकुमादि तैलम को नियमित रूप से लगाना आपकी स्किन को एक सुनहरी चमक देने के लिए जाना जाता है और इसे चमत्कारी अमृत भी कहा जाता है. कुमकुमादि तैलम को अंग्रेजी में सैफरन ऑयल कहते हैं और ये अपने एंटी-एजिंग और स्किन को यंग बनाए रखने वाले गुणों के लिए जाना जाता है. इसके अनगिनत फायदे हैं और उनमें से कुछ ये हैं.

रिवर्स टैनिंग में मदद करता है
कुमकुमादि तैलम तेज धूप की वजह से होने वाली सन टैनिंग के इफैक्ट्स को उलटने में बहुत प्रभावी है. फैक्ट ये है कि ये बिना किसी साइड इफैक्ट्स के टैन्स (Tans) को ठीक कर सकता है, जो कि कुमकुमादि तैलम की सबसे अच्छी विशेषताओं में से एक है.

यह भी पढ़ें-
डायबिटीज में पका केला खाना चाहिए या कच्चा? एक्सपर्ट ने बताया कब, कैसे करें सेवन

आपको चमकती त्वचा देता है
कुमकुमादि तैलम, जब त्वचा की देखभाल के लिए नियमित रूप से इस्तेमाल किया जाता है, तो इससे आपकी स्किन में नेचुरल शाइन और ग्लो आ जाता है. स्किन को हील करने और उसे प्रोटेक्ट करने के अलावा, कुमकुमादि तैलम आपकी स्किन को फ्रेश और यंग दिखने में मदद करता है और क्लियर स्किन की वजह आपके कॉन्फिडेंस भी बढ़ता है.

त्वचा की बनावट को फिर से भरें
कुमकुमादि तैलम त्वचा में प्रोटीन को बनाए रखने में मदद करता है, जो इसे चिकना रखता है. कुमकुमादि तैलम का रेगुलर इस्तेमाल यह सुनिश्चित करता है कि त्वचा महीन रेखाओं और झुर्रियों से मुक्त रहे, खासकर चेहरे पर.

यह भी पढ़ें-
आलिया भट्ट की योगा ट्रेनर ने बताईं 3 ब्रीदिंग टेकनीक, ये गर्मी में आपको रखेंगी कूल

एंटी-एजिंग गुण और मुंहासे का इलाज
कुमकुमादि तैलम के एंटी-एजिंग गुणों सहित कई फायदे हैं. ये उन लोगों में मुंहासों को रोकने के लिए भी कारगर है जिनकी त्वचा पर मुंहासे होने की संभावना होती है. ये स्किन के टिशूज को रिवाइव्ड करके मुंहासे के निशान को भी कम करता है और स्किन सेल्स को स्टिमुलेट (उत्तेजित) करता है. फेस पर निशान, महीन रेखाएं और झुर्रियां उम्र बढ़ने के संकेत हैं और ये केवल समय के साथ बढ़ते हैं. हालांकि, कुमकुमादि तैलम स्किन की बनावट की तीनों समस्याओं को कम करने में मदद कर सकता है और आपको जवां दिखने में मदद कर सकता है.

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Tags: Health, Health News, Lifestyle, Skin care

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.