आपकी ये आदतें बना रहीं किडनी को बीमार, नहीं संभले तो शरीर का हर अंग हो सकता है खराब
स्वास्थ्य

आपकी ये आदतें बना रहीं किडनी को बीमार, नहीं संभले तो शरीर का हर अंग हो सकता है खराब

नई दिल्‍ली. भारत में किडनी की बीमारियां तेजी से बढ़ रही हैं. इनमें भी क्रॉनिक किडनी डिजीज (CKD) का आंकड़ा चिंता पैदा करने वाला है. विश्‍व की बात करें तो करीब 85 करोड़ लोग आज किडनी के रोगों (Kidney Diseases) से जूझ रहे हैं वहीं भारत में 10 करोड़ लोग किसी न किसी प्रकार की किडनी की बीमारी से ग्रस्‍त हैं. स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञों का कहना है कि किडनी शरीर का ऐसा अंग है जो अगर किसी बीमारी की चपेट में आता है तो वह शरीर के अन्‍य अंगों को भी प्रभावित करने लगता है. जिसकी वजह से अन्‍य अंगों के भी गंभीर रोगों की चपेट में आने की संभावना बढ़ जाती है. ऐसे में किडनी को सुरक्षित रखना बेहद जरूरी है.

दिल्‍ली स्थित इंद्रप्रस्‍थ अपोलो अस्‍पताल में डिपार्टमेंट ऑफ नेफ्रोलॉजी के डायरेक्‍टर और एचओडी प्रोफेसर अमित कुमार कहते हैं कि पिछले कुछ सालों में किडनी की बीमारी में काफी तेजी आई है. आज लोगों को किडनी को लेकर जागरुक होने की जरूरत है क्‍योंकि यह एक ऐसा अंग है जिसमें कोई खराबी आती है तो उसका प्रभाव पूरे शरीर पर पड़ता है. किडनी के ठीक से फंक्‍शन न करने के चलते धीरे-धीरे सभी अंग आपका साथ छोड़ने लगते हैं. ध्‍यान देने वाली बात है कि अगर किसी को किडनी की कोई बीमारी हुई और वह 3 महीने से ज्‍यादा पुरानी हो गई तो उसे ठीक कर पाना संभव नहीं है. इस प्रकार की बीमारी को क्रॉनिक किडनी डिजीज कहा जाता है. यह समस्‍या धीरे-धीरे बढ़ेगी. वहीं इसका अन्‍य अंगों पर भी असर पड़ना शुरू हो जाएगा. अभी तक दुर्भाग्‍यवश किडनी की स्थिति को सुधारने या वापस स्‍वस्‍थ बनाने के लिए किसी भी पैथी में कोई दवा नहीं है. यही वजह है कि किडनी का मरीज धीरे-धीरे मौत के मुंह में समाने लगता है.

ये हैं बड़े किडनी रोग
एक्‍यूट रेनल फेल्‍यर या एक्‍यूट किडनी इंजरी (AKI)
क्रॉनिक किडनी डिजीज (CKD)
पेशाब का संक्रमण यानि यूरिनरी ट्रैक्‍ट इन्‍फेक्‍शन (UTI)
नेफ्रोटिक सिंड्रोम
पोलिसिस्टिक किडनी डिजीज (PKD)
ग्लोमेरूलोनेफ्राटिस
किडनी में पथरी
प्रोस्‍टेट की बीमारी यानि बीपीएच

इन कारणों से हो रही किडनी की बीमारी
प्रो. अमित कहते हैं कि भारत में डायबिटीज सबसे ज्‍यादा तेजी से बढ़ रही है. डायबिटीज के मरीजों के मामले में भारत विश्‍व की राजधानी बनने की ओर बढ़ रहा है. कोरोना के बाद शुगर में मरीजों में बढ़ोत्‍तरी देखी गई है. वहीं किडनी को बिगाड़ने में डायबिटीज का सबसे बड़ा योगदान देखा जा रहा है. डायबिटीज गुर्दे के रोग के लिए सबसे सामान्‍य कारण हो चुकी है. इसके अलावा ब्‍लड प्रेशर भी किडनी को खराब करता है. इसके लिए नमक का इस्‍तेमाल सीमित करना होगा. अगर किसी को परिवार में ये शिकायतें हैं तो आपको भी इनका चेकअप कराना चाहिए.
. लोगों की रूटीन की आदतें भी किडनी की बीमारी के लिए जिम्‍मेदार हैं. धूम्रपान किडनी पर काफी खराब असर डालता है. लोगों को इस बारे में जागरुक होना पड़ेगा.
. उलझी और व्‍यस्‍त लाइफस्‍टाइल के चलते लोगों में पानी कम पीने के चलते भी किडनी रोगों की संभावना ज्‍यादा रहती है.
. दर्द की दवाएं यानि पेनकिलर्स का किडनी पर बुरा असर पड़ता है. लोग बिना चिकित्‍सक के परामर्श के आए दिन पेनकिलर्स खाते रहते हैं जो अदृश्‍य रूप से किडनी को प्रभावित करती हैं.
. खासतौर पर महिलाओं में अगर बार-बार यूरिन इन्‍फेक्‍शन की शिकायत सामने आ रही है तो उन्‍हें किडनी फेल्‍यर होने की संभावना ज्‍यादा रहती है.
. कोविड के कारण भी कुछ लोगों में किडनी की बीमारी मौजूद थी तो वह बहुत तेज हुई है.
. इम्‍यून सिस्‍टम की वजह से भी किडनी की बीमारी हो रही है.

बाकी अंगों पर किडनी का ये पड़ता है असर
यही वजह है कि किडनी शरीर का बेहद जरूरी अंग है. इसका प्रमुख काम हमारे शरीर में रोजाना बनने वाले जहरीले पदार्थ या वेस्‍ट प्रोडक्‍ट को बाहर करना है. शरीर को नुकसान पहुंचाने वाले ऐसे पदार्थों को किडनी पेशाब के माध्‍यम से बाहर करती है. जो भी पेय पदार्थ व्‍यक्ति पूरे दिन में पीता है वह भी किडनी यूरिन के माध्‍यम से बाहर निकालती है. गुर्दे यानि किडनी का काम शरीर की सफाई रखना है. अगर किडनी कमजोर होने लगती है तो अवशिष्‍ट पदार्थों को निकलने में दिक्‍कत आ जाती है और ये शरीर में ही इकठ्ठा होने लगते हैं. जिसका नतीजा यह होता है कि गंदगी या जहर का स्‍तर शरीर के भीतर बढ़ने लगता है और फिर यह ब्रेन, हार्ट, लिवर, आंत, नसों के अलावा शरीर के हर अंग को प्रभावित करने लगता है. कुछ ही समय में शरीर के विभिन्‍न अंग गंभीर बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं.

डॉ. अमित कहते हैं कि किडनी में होने वाले रोग सिर्फ किडनी को ही नुकसान नहीं पहुंचाते बल्कि किडनी का फंक्‍शन शरीर के हर अंग को बचाए रखने के लिए बेहद जरूरी होता है ऐसे में किडनी में खराबी आने से हर अंग तेजी से प्रभावित होने लगता है.

Tags: Kidney, Kidney disease, Kidney donation, Kidney transplant

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.